देश

Aarogya Setu Scam: आरोग्य सेतु ऐप की क्या है सच्चाई

0
bharat headlines

Aarogya Setu Scam: आरोग्य सेतु ऐप की क्या है सच्चाई यहा पढ़े

भारत में कोरोना वायरस ( CORONA VIRUS) के बढ़ते ही कई प्रकार की परेशानियों को देखा गया जिनमें लोगों को कोरोना वायरस से बचने में मदद की आवश्यकता थी। एक समय ऐसा भी आया जब लगातार यह वायरस बढ़ता ही जा रहा था।

जिससे लोगों में परेशानी और चिंताएं साफ देखी जा रही थी खासतौर से बुजुर्गों और बच्चों के लिए। ऐसे में भारत सरकार की ओर से एक नया कदम उठाया गया जो आरोग्य सेतु ऐप ( AAROGYA SETU APP) के रूप में हमारे सामने आया।

Aarogya Setu Scam
aarogya setu scam

Aarogya Setu Scam: क्या है आरोग्य सेतु ऐप

भारत सरकार द्वारा बनाया गया यह ऐप 2 अप्रैल 2020 को लोगों के सामने आया। इस बात की जानकारी दी गई कि इस ऐप को अगर आप अपने मोबाइल में डाउनलोड कर लेते हैं, तो उसके बाद आप कोरोना वायरस( CORONA VIRUS) से सचेत हो सकते हैं।

अगर आप इस स्थिति में कहीं बाहर जाते हैं तो यह ऐप आप को इस बात की जानकारी देगा की आपके आसपास कोई कोरोना वायरस से पीड़ित व्यक्ति है या नहीं ?

इसे एक बेहतर कदम समझा गया जो लोगों के हित के लिए फायदेमंद हुआ। इस ऐप की जानकारी स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ( PRIME MINSTER NARENDRA MODI) ने दी जिसे लोगों ने भी भरपूर सराहा।

AAROGYA SETU APP
AAROGYA SETU APP

Aarogya Setu Scam: अब उठने लगे हैं कुछ सवाल

इस आरोग्य सेतु ऐप ( AAROGYA SETU APP) के अब तक लगभग 11.5 करोड लोगों ने उपयोग किया है और इसका फायदा उठाया है लेकिन पिछले कुछ दिनों से इस ऐप पर कुछ सवाल उठने लगे हैं जिसमें यह भी कहा गया है कि यह ऐप सही तरह से जानकारी देने में विफल है।

साथ ही साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के ऊपर भी यह बात कही जा रही है कि उन्होंने बिना जानकारी के ही इस ऐप को प्रमोट कर दिया है। हालांकि इस बात की सच्चाई पूर्ण रूप से नहीं बताई जा सकती क्योंकि अभी यह पूर्ण रुप से साबित नहीं हो पाया है कि यह सही तरीके से कार्य नहीं कर रहा है।

AAROGYA SETU APP
AAROGYA SETU APP

Aarogya Setu Scam: सही जानकारी के लिए लगाई गई फटकार

जहां इस ऐप को सामान्य लोगों के लिए एक बेहतर विकल्प माना गया। अब सवाल उठने के बाद केंद्रीय सूचना आयोग (NATIONAL INFORMATION COMMISION) ने जानकारी के लिए नेशनल इनफॉर्मेटिक्स सेंटर( NIC) को सही जानकारी देने के लिए फटकार लगाई है।

जो भी मामले इस संबंध में उठ रहे हैं उन सभी मामलों की गुत्थी को सुलझाने के आदेश दिए गए हैं ताकि लोगों को किसी भी भ्रम में ना रखा जाए।

AAROGYA SETU APP

Aarogya Setu Scam: ट्विटर पर उतरा लोगों का गुस्सा

आरोग्य सेतु ऐप (AAROGYA SETU APP) की पूरी जानकारी ना मिलने की वजह से ट्विटर( TWITTER) पर लोगों का गुस्सा लगातार बढ़ता ही जा रहा है। कुछ ट्विटर यूजर्स ने यह भी कहा कि “इस ऐप के जरिए लोगों की स्वास्थ्य से खिलवाड़ किया जा रहा है जिससे सही कदम नहीं कहा जा सकता।

” इसके साथ ही साथ लोगों की ऐप को सही करने की मांग उठ रही है जिसमें इस ऐप को सही करने की कवायद शुरू हो चुकी है। इस सिलसिले में लगातार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PRIME MINISTER NARENDRA MODI) के ऊपर भी सवाल उठ रहे हैं।

इसकी शुरुआत सौरव दास नामक व्यक्ति ने की जिन्होंने चीफ इनफॉर्मैट्रिक्स कमीशन ( CHIEF INFORMATICS COMMISION) में शिकायत दर्ज की थी।

यह भी पढ़े : Best Natural Corona Vaccine जानिए कौन सी है कोरोना वायरस की प्रमुख वैक्सीन

Aarogya Setu Scam: स्वास्थ्य का ध्यान रखना है जरूरी

अगर आपके पास आरोग्य सेतु ऐप नहीं है ऐसी स्तिथी में भी खुद के स्वास्थ्य का ध्यान रखना जरूरी है। ऐसा जरूरी नहीं कि आप घर के बाहर रहने पर ही आपको संक्रमण हो सकता है। घर में रहते हुए भी खुद को स्वच्छ और स्वास्थ्य के प्रति सजग रहें। हमारी खुद की सजगता से ही इस कोरोना वायरस को दूर किया जा सकता है।

Shubham Pawar

Best Natural Corona Vaccine जानिए कौन सी है कोरोना वायरस की प्रमुख वैक्सीन

Previous article

Festival 2020 : हो जाइए तैयार आने वाले त्योहारों के लिए

Next article

You may also like

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *